Home Blog ALERT: पार्टटाइम जॉब और बेंगलुरु की महिला ने की बड़ी गलती, क्या आपको भी तो नहीं आया ये ऑफर

ALERT: पार्टटाइम जॉब और बेंगलुरु की महिला ने की बड़ी गलती, क्या आपको भी तो नहीं आया ये ऑफर

0
ALERT: पार्टटाइम जॉब और बेंगलुरु की महिला ने की बड़ी गलती, क्या आपको भी तो नहीं आया ये ऑफर

[ad_1]

बेंगलुरु. कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में जालसाजी की एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. बेंगलुरु की एक महिला को फर्जी पार्टटाइम नौकरी देने का लालच देकर जालसाजों ने 60 लाख रुपये की धोखाधड़ी कर ली. खबरों के मुताबिक, शहर के सरजापुर इलाके में रहने वाली 27 वर्षीय महिला सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. 11-19 सितंबर वाले सप्ताह के दौरान उन्होंने अपना पैसा गंवा दिया. यह सब तब शुरू हुआ जब उन्हें पार्टटाइम नौकरी के बारे में सूचित करने वाले एक लिंक के साथ एक टेक्स्ट मैसेज मिला.

महिला ने टेक्स्ट मैसेज पर क्लिक किया तो वह एक टेलीग्राम ग्रुप में पहुंच गईं. वहां, उन्हें होटलों की समीक्षा करने और उसके लिए 100 रुपये कमाने के लिए कहा गया. शुरुआत में महिला को होटलों की समीक्षा के लिए कुछ पैसे मिलते थे. हालांकि, बाद में, जालसाजों ने उन्हें एक निवेश अवसर के बारे में बताया जो अच्छा पैसा कमाने में मदद कर सकता है.

जालसाजों के कहने पर किया निवेश
इसके बाद महिला ने जालसाजों के कहने पर निवेश करना शुरू किया. उन्होंने अपने और अपनी सास के बैंक खाते से सारे पैसे निकाल लिए. आखिरकार, उन्होंने 60 लाख रुपये का भारी भरकम निवेश किया. हालांकि, जब उन्हें प्रस्तावित नौकरी नहीं मिली, तब उन्हें एहसास हुआ कि उनके साथ धोखा हुआ है.

ये भी पढ़ें- धन बल, मुफ्त की रेवड़ियां खासतौर से हमारे रडार पर होंगी… तेलंगाना में चुनाव तैयारियों पर बोले CEC राजीव कुमार

यह नहीं है जालसाजी का पहला मामला
यह पहली बार नहीं है जब शहर में इस तरह का कोई जालसाजी का मामला सुर्खियां बटोर रहा है. इससे पहले, एक रेडिट यूजर ने सोशल मीडिया साइट पर टैक्सी ड्राइवरों द्वारा एक नया स्कैम साझा किया था. अपना नाम उजागर ना करते हुए एक महिला ने अपनी मां के साथ घटी एक घटना को साझा किया. उन्होंने बताया कि उनकी मां बेंगलुरु टी2 से उड़ान भर रही थीं और उन्होंने उसी के लिए कैब बुक की थी. आपमें से जो लोग शायद अनजान हों, उबर आपको बेंगलुरु से उड़ान भरते समय विभिन्न एयरलाइनों की सूची दिखाता है और आपके द्वारा चुनी गई एयरलाइनों के आधार पर टी1 या टी2 के लिए  सवारी बुक करता है. उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट के रास्ते में ड्राइवर ने उनकी मां को बताया कि आपकी ड्रॉप लोकेशन T1 है, T2 नहीं.

हालांकि महिला जानती थीं कि यह T1 नहीं है, लेकिन फिर भी ड्राइवर अपनी बात पर अड़ा रहा. जब उन्होंने एयरपोर्ट में प्रवेश करते समय ऐप की जांच की, तो उबर ने दिखाया कि उसने सवारी को टी2 पर छोड़ने के लिए बुक किया था. जबकि ड्राइवर टी1 पर उतारने के लिए जोर दे रहा था. उनकी इस पोस्ट का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को इस स्कैम के बारे में जागरूक करना था.

Tags: Bengaluru, Fraud, Job

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here