Home Blog Aditya L1 Mission के अवसर पर पढ़ें सूर्य पर बेस्ट शायरी- ‘कुछ लोग मेरे हिस्से का सूरज भी खा गए’

Aditya L1 Mission के अवसर पर पढ़ें सूर्य पर बेस्ट शायरी- ‘कुछ लोग मेरे हिस्से का सूरज भी खा गए’

0
Aditya L1 Mission के अवसर पर पढ़ें सूर्य पर बेस्ट शायरी- ‘कुछ लोग मेरे हिस्से का सूरज भी खा गए’

[ad_1]


इसरो के वैज्ञानिकों ने आदित्य एल 1 मिशन का सफलतापूर्वक लॉन्च किया है. अब हमारे वैज्ञानिक सूरज के रहस्यों का पता लगाएंगे. सूरज सदियों से हमारे वैज्ञानिकों, ज्योतषियों और साहित्यकारों के लिए अनुसंधान, ज्ञान और रचनात्मकता का प्रतीक रहा है. हमारे तमाम साहित्यकारों ने सूरज को समर्पित अनेक रचनाएं लिखी हैं.

01

आसमान में चमकते सूरज को इस चराचर जगत की आत्मा कहें तो कोई गलत नहीं होगा. इस धरती का जीवन सूरज से ही है. हम सदियों से सूर्य को देवता के रूप में पूजते आ रहे हैं. देवताओं में सूर्यदेव का स्थान बहुत ही महत्वपूर्ण है.

02

इस धरती पर प्रत्येक जीव-जंतु, वनस्पति की उत्पत्ति का आधार सूरज ही है. वेदों का साथ-साथ साहित्य जगत में भी सूरज साहित्यिक आराधान के केंद्र में रहा है.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here