Home Blog लंबा खिंचा युद्ध तो रॉकेट बन जाएंगे इन कंपनियों के शेयर! क्‍यों आएगी तेजी? ब्रोकरेज ने खोला राज –

लंबा खिंचा युद्ध तो रॉकेट बन जाएंगे इन कंपनियों के शेयर! क्‍यों आएगी तेजी? ब्रोकरेज ने खोला राज –

0
लंबा खिंचा युद्ध तो रॉकेट बन जाएंगे इन कंपनियों के शेयर! क्‍यों आएगी तेजी? ब्रोकरेज ने खोला राज –

[ad_1]

हाइलाइट्स

इजराइल पर हमास के अचानक हमले से पूरी दुनिया में ब्रोमीन की कीमतें बढ़ गई हैं.
ब्रोमीन का इस्‍तेमला दवाएं, खासकर मिर्गी और एंग्जाइटी की दवा बनाने में होता है.
इजराइल-हमास युद्ध के बाद से ही केमिकल स्‍टॉक्‍स में तेजी दर्ज की गई है.

Israel-Hamas War : इजरायल और हमास के बीच छिड़ी जंग अगर लंबा खिंचती है तो केमिकल बनाने वाली कुछ कंपनियों के शेयरों में तेज उछाल आ सकता है. पिछले 2 दिनों से केमिकल कंपनियों के शेयर (Chemical Stocks) तेजी से भाग भी रहे हैं. कुछ केमिकल स्‍टॉक्‍स में तेजी का कारण ब्रोमीन (Bromine) नामक एक केमिकल की सप्‍लाई इजरायल से बाधित होने की आशंका है. इजरायल ब्रोमीन का मुख्‍य निर्यातक है. विश्‍व में 30 फीसदी ब्रोमीन इजरायल से ही आता है. ब्रामीन पीरियाडिक टेबल में यह केमिकल 35वें नंबर पर आता है और इसका सिंबल ‘Br’ होता है.

इजराइल पर हमास के अचानक हमले से पूरी दुनिया में ब्रोमीन की कीमतें बढ़ गई हैं. इसका असर केमिकल सेक्टर की कंपनियों को मिल रहा है.ब्रोमीन केमिकल का नेगेटिव चार्ज रूप होता है, यानी BR-. इसे ब्रोमाइड भी कहते हैं. इसका इस्‍तेमाल कई तरह की दवाएं बनाने में होता है. खासतौर से मिर्गी के दौरे या एंग्जाइटी के इलाज के लिए बनने वाली दवाओं में इसका ज्‍यादा इस्‍तेमाल होता है.

मृत सागर से निकलता है सबसे ज्‍यादा ब्रोमीन
मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के अनुसार, जराइल, फिलिस्तीन के वेस्ट बैंक और जॉर्डन देश की सीमाओं के बीच एक बहुत बड़ी झील है, जिसे मृत सागर कहते हैं. यह खारे पानी की दुनिया की सबसे बड़ी झील है. दुनिया का करीब 50 से 55 प्रतिशत ब्रोमीन इसी मृत सागर में पाया जाता है. चूंकि यह सागर इजराइल के बार्डर पर है, इसलिए वहीं इसके अधिकतर हिस्से को कंट्रोल करता है.

ब्रोकरेज इन शेयरों पर बुलिश
केमिकल सेक्टर के मौजूदा हालात को देखते हुए ब्रोकरेज फर्म जेएम फाइनेंशिनेंयल (JM Financial) ने एसआरएफ, दीपक नाइट्राइट और आर्कियन केमिकल के शेयरों को खरीदने की सलाह निवेशकों को दी है. जेएफ फाइनेंशियल ने SRF के शेयर का टार्गेट प्राइस 2,230 रुपये, दीपक नाइट्राइट का 2,066 रुपये और आर्कियन केमिकल का 628 रुपये तय किया है. इसके अलावा ब्रोकरेज फर्म ने UPL, पीयू इंडस्ट्रीज, क्लीन साइंस, नवीन फ्लोरीन और एथर इंडस्ट्रीज के शेयरों पर भी अपना ‘बाय’ रेटिंग बरकरार रखी है.

जेएम फाइनेंशिनेंयल ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि इजराइल में जंग के हालात पैदा से होने से ब्रोमीन के उत्पादन, उसकी बिक्री और विदेशों में एक्सपोर्ट्स को लेकर चिंताएं खड़ी हो गई हैं. जंग के चलते अगर ब्रोमीन के एक्सपोर्ट्स में कमी आई तो इसकी कीमत तेजी से बढ़ेंगी. फिलहाल ब्रोमीन का भाव करीब 290 रुपये प्रति किलो है.

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक्‍स ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित हैं. यदि आप इनमें से किसी में भी पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह की लाभ या हानि के लिए लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Business news in hindi, Hamas attack on Israel, Stock market, Stock tips

Source link

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here