Home Blog बोले- यदि प्रधानमंत्री कल रावघाट रेल परियोजना का काम आगे बढ़ाने की बात नहीं करेंगे तो रोकी जाएगी ट्रेन –

बोले- यदि प्रधानमंत्री कल रावघाट रेल परियोजना का काम आगे बढ़ाने की बात नहीं करेंगे तो रोकी जाएगी ट्रेन –

0
बोले- यदि प्रधानमंत्री कल रावघाट रेल परियोजना का काम आगे बढ़ाने की बात नहीं करेंगे तो रोकी जाएगी ट्रेन –

[ad_1]

जगदलपुर22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
जगदलपुर में सत्याग्रह किया गया। - Dainik Bhaskar

जगदलपुर में सत्याग्रह किया गया।

गांधी जयंती पर बस्तर रेल आंदोलन के सदस्यों ने केंद्र सरकार और रेलवे के खिलाफ सत्याग्रह किया है। साथ ही इन्होंने केंद्र सरकार, रेलवे मिनिस्टर और NMDC को रेल रोकने की चेतावनी दी है। सदस्यों का कहना है कि, प्रधानमंत्री कल जगदलपुर दौरे पर रहेंगे, यदि वे कल रावघाट रेल परियोजना का काम आगे बढ़ाने की बात नहीं करते हैं तो हम रेल रोकने मजबूर हो जाएंगे।

रेल आंदोलन के सदस्यों का कह्ना है कि, जगदलपुर-रावघाट रेल परियोजना का काम अधर में लटका हुआ है। जगदलपुर तक पटरियां बिछाने के लिए जिम्मेदार कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। काम पूरा करने की मांग को लेकर बस्तर रेल आंदोलन के सदस्यों ने कई बार प्रदर्शन किया है। रेलवे मिनिस्टर को भी ज्ञापन दिया गया था ,लेकिन इस काम को आगे बढ़ाने पहल नहीं हुई। रेलवे मिनिस्टर से ट्विट कर काम करवाने के आश्वासन दिया था, फिर भी इस कम के लिए कोई पहल नहीं हुई।

इस आंदोलन में कुल 75 समाज के लोग शामिल हैं।

इस आंदोलन में कुल 75 समाज के लोग शामिल हैं।

बस्तर चेंबर्स ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष और रेल आंदोलन के सदस्य मनीष शर्मा ने कहा कि, रेलवे मिनिस्टर, रेलवे डीआरएम को कई बार ज्ञापन सौंपा गया है। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जगदलपुर आ रहे हैं, उनतक हमारी बात पहुंच जाए इसलिए आज शांतिपूर्वक सत्याग्रह किया गया है। यदि कल इस परियोजन का काम आगे बढ़ाने की बात नहीं करते हैं तो अब रेल रोकना ही अंतिम निर्णय होगा।

बस्तर रेल आंदोलन के सदस्य संपत झा ने कहा कि, रावघाट-जगदलपुर रेल लाइन का बजट भी सिर्फ कागजों में ही है। जबकि, जगदलपुर-किरंदुल एवं जगदलपुर-कोरापुट रेललाइन दोहरीकरण के लिए रेल विभाग के अफसर ग्राउंड पर उतरकर काम कर रहे हैं। बस्तरवासियों के लिए रावघाट-जगदलपुर रेल लाइन को जल्द से जल्द शुरू करने की मांग को लेकर कुछ महीने पहले अंतागढ़ से जगदलपुर तक पैदल यात्रा भी किए थे। बावजूद अफसर कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here