Home Blog बर्खास्‍त RPF कांस्टेबल ने महिला यात्री और गार्ड पर तानी थी AK-47, रेलवे पुल‍िस का चौंकाने वाला खुलासा

बर्खास्‍त RPF कांस्टेबल ने महिला यात्री और गार्ड पर तानी थी AK-47, रेलवे पुल‍िस का चौंकाने वाला खुलासा

0
बर्खास्‍त RPF कांस्टेबल ने महिला यात्री और गार्ड पर तानी थी AK-47, रेलवे पुल‍िस का चौंकाने वाला खुलासा

[ad_1]

हाइलाइट्स

चेतन सिंह ट्रेन के S6 कोच में यात्री अब्दुल कादिर को मारने के बाद S5 कोच में गया था
आरोपी चेतन सिंह को RPF सेवा से क‍िया जा चुका है बर्खास्‍त
आरोपी बोरीवली कोर्ट के आदेश के बाद न्यायिक हिरासत में है

Jaipur-Mumbai Train Firing: जयपुर-मुंबई सेंट्रल सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन गोलीकांड में एक बड़ा खुलासा हुआ है. ट्रेन में फायर‍िंग करने वाला मुख्‍य आरोपी बर्खास्‍त आरपीएफ कांस्‍टेबल चेतन स‍िंह चौधरी S6 कोच में यात्री अब्दुल कादिर को मारने के बाद S5 कोच में गया था और वहां उसने एक महिला यात्री पर भी AK47 तान दी थी. हालांकि भगदड़ मचने और हंगामा होने के चलते उसने गोली नहीं चलाई और ट्रेन से उतर गया.

रेलवे पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस महिला यात्री का भी बयान दर्ज किया गया है, जिन्होंने अपने बयान में इन कोच में उस समय की परिस्थिति का जिक्र किया है. सूत्र बताते हैं क‍ि ट्रेन से उतरने के बाद आरोपी चेतन सिंह ने ट्रेन के गार्ड के ऊपर भी बंदूक तान दी थी, क्योंकि वह उसे रोकने की कोशिश कर रहा था. सूत्रों के मुताबिक जब चेतन सिंह ने गार्ड पर बंदूक तान दी तो वह डर गए और वापस ट्रेन के कोच में आ गए.

Jaipur-Mumbai Train Firing: आरपीएफ कांस्टेबल चेतन स‍िंह चौधरी बर्खास्त, 6 साल पहले भी ‘नफरत मामले’ में हुई थी जांच

बताते चलें क‍ि एक सीन‍ियर साथी और 3 यात्रियों की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या करने वाले रेलवे सुरक्षा बल के कांस्टेबल चेतन सिंह चौधरी को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है. चौधरी की बर्खास्तगी का आदेश 14 अगस्त को आरपीएफ के वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त, मुंबई सेंट्रल की ओर से जारी किया गया. आरपीएफ एएसआई टीकाराम मीणा (RPF ASI Tikaram Meena) के अलावा मृतकों की पहचान पालघर के नालसोपोरा में रहने वाले अब्दुल कादरभाई मोहम्मद हुसैन भानपुरवाला (58), बिहार के मधुबनी के निवासी असगर अब्बास शेख (48) और सैयद एस. (43) के रूप में हुई थी. आरोपी चेतन सिह इस वक्त बोरीवली कोर्ट के आदेश के बाद न्यायिक हिरासत में है.

जानकारी के मुताब‍िक 31 जुलाई की घटना को लेकर आरपीएफ जांच टीम ने सेवा के दौरान उनके व्यवहार और आचरण का विश्लेषण करने के लिए चौधरी के वर्तमान और पूर्व दोनों सहकर्मियों और सी‍न‍ियरों के बयान पहले ही दर्ज कर लिए थे. ट्रेन गोलीबारी की जांच कर रहे जांचकर्ताओं का कहना है क‍ि चौधरी ने कथित तौर पर बुर्का पहने एक महिला यात्री को भी धमकी दी और बंदूक की नोक पर उनको ‘जय माता दी’ कहने के लिए मजबूर किया था.

पुलिस सूत्रों का कहना है क‍ि इस मामले की जांच कर रही जीआरपी, बोरीवली ने उक्‍त महिला की पहचान कर ली है और स्‍टेटमेंट र‍िकॉर्ड कर ल‍िया गया है और इस मामले में उनको मुख्य गवाह भी बनाया है. सूत्रों बताते हैं क‍ि यह पूरा मामला ट्रेन में लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गया था.

Tags: Crime News, Indian railway, Mumbai News, RPF, Western Railway

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here