Home Blog किसान आंदोलन: श्रीगंगानगर में 3 दिन से बंद है राजस्थान-पंजाब को जोड़ने वाला हाईवे, जानें वजह

किसान आंदोलन: श्रीगंगानगर में 3 दिन से बंद है राजस्थान-पंजाब को जोड़ने वाला हाईवे, जानें वजह

0
किसान आंदोलन: श्रीगंगानगर में 3 दिन से बंद है राजस्थान-पंजाब को जोड़ने वाला हाईवे, जानें वजह

[ad_1]

हाइलाइट्स

श्रीगंगानगर में किसानों का आंदोलन
किसानों की चेतावनी पानी मिलने ही खोलेंगे जाम
किसान आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने ट्रैफिक किया डाइवर्ट

श्रीगंगानगर. पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित श्रीगंगानगर जिले में गंग कैनाल में सिंचाई के पानी की मांग को लेकर बीते तीन दिनों से राजस्थान और पंजाब को जोड़ने वाला हाईवे जाम है. सिंचाई के पानी की मांग को लेकर किसानों ने साधुवाली में जाम लगा रखा है. किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए यहां ट्रैफिक डाइवर्ट किया गया है. किसानों का आरोप है कि पंजाब सरकार की मनमानी के चलते गंग कैनाल में पानी की आवक नहीं हो रही है. किसानों ने चेतावनी दी है कि जब तक पानी नही मिलेगा तब हाईवे जाम रहेगा.

किसानों ने गंग कैनाल से सिंचाई के पानी की मांग को लेकर शुक्रवार की शाम 6 बजे से साधुवाली में डेरा डाला था. उसके बाद वहां भीड़ बढ़ती गई. अपनी मांगों को लेकर उग्र सैकड़ों किसानों ने वहां राजस्थान-पंजाब नेशनल हाईवे को पूरी तरह से जाम कर दिया. जाम की सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस प्रशासन वहां पहुंचा. लेकिन किसानों के आक्रोश को देखते हुए वे अलर्ट मोड पर आ गए. फिलहाल वहां से जाम नहीं हटवाया गया है.

राजस्थान और केन्द्र सरकार पर भी लगाए अनदेखी के आरोप
साधुवाली में नेशनल हाईवे पर डेरा डालकर बैठे किसानों का कहना है कि पंजाब सरकार की मनमानी के साथ-साथ राजस्थान सरकार और केंद्र सरकार की अनदेखी के चलते श्रीगंगानगर जिले के हजारों किसानों को सिंचाई पानी से वंचित होना पड़ रहा है. ऐसे में जब तक गंग कैनाल में सिंचाई के पानी की आपूर्ति नहीं कर दी जाती तब तक नेशनल हाईवे जाम रहेगा. शनिवार को भी श्रीगंगानगर जिले की धान मंडियों में कामकाज ठप रखा गया था.

14 दिन से खाजूवाला भी बंद है
दूसरी तरफ श्रीगंगानगर जिले के पड़ोसी जिले बीकानेर में खाजूवाला और छतरगढ़ को नवगठित अनूपगढ़ जिले में शामिल करने का जबर्दस्त विरोध हो रहा है. खाजूवाला और छतरगढ़ लोगों की मांग है कि इन दोनों क्षेत्रों को या तो बीकानेर जिले में यथावत रखा जाए या फिर इनको मिलाकर नया जिला बनाया जाए. लेकिन उन्हें अनूपगढ़ में किसी भी सूरत में शामिल नहीं किया जाए. इस मांग को लेकर बीते 14 दिन से खाजूवाला कस्बा बंद है. अपनी मांगों के समर्थन में वहां पांच दर्जन से ज्यादा लोगों ने सामूहिक मूंडन तक करवा लिया है.

Tags: Farmer, Farmers Agitation, Rajasthan news, Sri ganganagar news

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here