Home Blog इस पेड़ से पत्‍ते नहीं, हरे-हरे नोट झड़ते हैं! दीवाने हैं ब्राजील, कनाडा और अमेरिका वाले, खेती है बेहद आसान

इस पेड़ से पत्‍ते नहीं, हरे-हरे नोट झड़ते हैं! दीवाने हैं ब्राजील, कनाडा और अमेरिका वाले, खेती है बेहद आसान

0
इस पेड़ से पत्‍ते नहीं, हरे-हरे नोट झड़ते हैं! दीवाने हैं ब्राजील, कनाडा और अमेरिका वाले, खेती है बेहद आसान

[ad_1]

हाइलाइट्स

भारत में महोगनी की खेती पहाड़ी इलाकों को छोड़कर सभी मैदानी इलाकों में की जा सकती है.
पानी जमा होने वाली जमीन और पथरीली मिट्टी में महोगनी का पौधा नहीं लगाना चाहिए.
महोगनी के पेड़ के हर हिस्से को बाजार में अच्छी कीमत पर बेचा जा सकता है.

नई दिल्ली. अगर आप खेती किसानी से जुड़े हुए हैं तो आप एक्स्ट्रा इनकम के लिए अपने खेत की मेड़ पर कुछ पेड़ लगाकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं. यहां हम आपको एक ऐसे पेड़ के बारे में बता रहे हैं जिसे पैसों वाला पेड़ भी कहा जाता है. दरअसल, हम महोगनी के पेड़ की बात कर रहे हैं, जो एक बहुत कीमती पेड़ है. इसकी खास बात यह है कि शुरुआती दो साल देखभाल करने के बाद अलग से किसी तरह की देखभाल या पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं होती है.

भारत में महोगनी की खेती पहाड़ी इलाकों को छोड़कर सभी मैदानी इलाकों में की जा सकती है. ब्राजील, कनाडा और अमेरिका में महोगनी पेड़ की पत्तियों, बीज और लकड़ी की बहुत मांग है. आइए जानते हैं कि महोगनी के पेड़ लगाकर आप कैसे कमाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें – Business Idea: इस फूल की खेती से हो जाएंगे मालामाल, 1 क्विंटल की कीमत सुनकर चकरा जाएगा सिर

कैसे करें महोगनी की खेती
महोगनी की खेती करने के लिए सबसे पहले खेत की गहरी जुताई करने के बाद पाटा लगाकर खेत को समतल कर लें. अब इसमें 5 से 7 फुट की दूरी पर 3×2 का गड्ढा तैयार कर लें. लाइन से लाइन की दूरी 4 मीटर होनी चाहिए. अब इन गड्ढों में गोबर और रासायनिक खाद को मिट्टी में मिलाकर भर दें. अब इनकी अच्छी तरह से सिंचाई कर दें. कुछ समय बाद इन गड्ढों में महोगनी के पौधों की रोपाई कर दें. पानी वाली और पथरीली मिट्टी में महोगनी का पौधा न लगाएं. पौधे लगाते समय तेज गर्मी या ज्यादा सर्दी वाले मौसम से बचना चाहिए. बाजार में अच्छी किस्म का पौधा 100 से 150 रुपये तक में मिल जाएगा. एक एकड़ खेत में महोगनी की खेती करने पर एक से डेढ़ लाख रुपये की लागत आएगी.

बहुपयोगी है महोगनी का पेड़
महोगनी के पेड़ के हर हिस्से को बाजार में अच्छी कीमत पर बेचा जा सकता है. इसकी लकड़ी का इस्तेमाल पानी के जहाज, मूर्ति, सजावटी सामान और संगीत के वाद्य यंत्र बनाने के लिए किया जाता है. महोगनी के बीज और पत्ती का इस्तेमाल शक्तिवर्धक दवा बनाने में होता है. महोगनी के पत्तों का इस्तेमाल कैंसर, अस्थमा, ब्लड प्रेशर, सर्दी और शुगर सहित कई बीमारियों के इलाज में किया जाता है. इसकी पत्तियों का इस्तेमाल खेती-बाड़ी के लिए कीटनाशक तैयार करने में भी होता है. महोगनी की पत्तियों के तेल का इस्तेमाल साबुन, पेंट और वार्निस उद्योग में किया जाता है.

महोगनी की खेती से कमाई
महोगनी का पौधा 12 साल में 60 से 80 फुट ऊंचाई तक का घना पेड़ बन जाता है. ऐसे में एक पेड़ से लगभग 40 घन फुट लकड़ी मिल जाती है. वहीं इसकी एक घन फुट लकड़ी 1300 से 2500 रुपये में बिकती है. अगर औसतन 1500 रुपये प्रति घन फुट के हिसाब से भी लकड़ी की बिक्री की जाती है तो एक पेड़ लगभग 60,000 रुपये में बिकता है. वहीं इसके एक पौधे से लगभग 5 किलोग्राम बीज हासिल होते हैं. बाजार में बीज की कीमत 1,000 रुपये प्रति किग्रा मिल जाती है. इस तरह आप इसके कई पेड़ लगाकर तगड़ी कमाई कर सकते हैं.

Tags: Business at small level, Business from home, Business ideas, Business news, Business news in hindi, Business opportunities, Earn money, Farming in India, Money Making Tips

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here